ब्लॉगिंग क्या है ? इसे कैसे करते हैं और इससे पैसे कैसे कमाए जा सकते हैं – What is Blogging in Hindi

दोस्तों, मैं जानता हूँ आप इस लेख में यह समझने के लिए आये हैं के ब्लॉग क्या होता है , ब्लॉगिंग कैसे करते हैं और इससे पैसे कैसे कमाए जा सकते हैं ।

जब मैंने भी पहली बार “ब्लॉगिंग” का नाम सुना था तो पहला काम यही किया था, गूगल पे सर्च किया था कि आखिर “ब्लॉगिंग क्या होती है?” । शायद अपने भी किसी से इस बारे में सुना होगा या फिर आपका कोई दोस्त या रिश्तेदार ब्लॉगिंग कर के अच्छा ख़ासा पैसा कमा रहा होगा तभी आपके मन में ब्लॉगिंग के बारे में जानने कि जिज्ञासा हुई होगी।

कारण कोई भी हो, मैंने ठान ली है के इस लेख के ब्लॉगिंग कि सम्पूर्ण जानकारी आपको देके रहूँगा ताकि इससे सम्बंधित कोई भी शंका आपके दिमाग में न रहे ।

ब्लॉगिंग क्या है | “Blogging” Explained in Hindi

दोस्तों, ब्लॉग्गिंग की कहानी इंटरनेट के शुरुवाती दिनों से ही चली आ रही है । मैं आपको इसके इतिहास की लम्बी कहानी सुना कर बोर नहीं करूँगा पर कुछ महत्वपूर्ण जानकारी अवश्य देना चाहूंगा|

क्यूंकि उस समय इंटरनेट एक बड़ी तकनीक थी, लोगों को शायद ज्ञात नहीं था के इंटरनेट की क्या क्षमता है । शुरू शुरू में ब्लॉग केवल एक व्यक्तिगत डायरी मात्र थे । लोग अपनी दैनिक क्रिया, अपने जीवन के बारे में बात करते थे और इस जानकारी को ऑनलाइन शेयर करते थे। लेकिन धीरे धीरे लोगों ने इंटरनेट के प्रभाव को समझा और जाना के ब्लॉग के जरिये वो कई तरह की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी एक दूसरे से साझा कर सकते हैं । ब्लॉगिंग का सही मायने में जन्म तभी हुआ था |

ब्लॉगिंग का अर्थ समझने से पहले ये जान लेते हैं कि ब्लॉग क्या होता है

ब्लॉग का क्या अर्थ है?

ब्लॉग शब्द जो कि “वेबलॉग” से बना है, इसका अर्थ है एक ऑनलाइन पत्रिका या सूचनात्मक वेबसाइट जिसमें नवीनतम लेख पहले दिखाई देते हैं । उदाहरण के लिए आप मेरे ही ब्लॉग को देख लें, मैं इसमें आपको तरह कि तरह कि जानकारियां देता हूँ । मेरे ब्लॉग के पहले पेज पर अगर आप जायेंगे तो देखेंगे के नवीनतम लेख या आर्टिकल पहले दिखाई देता है|

ब्लॉग और वेबसाइट में क्या अंतर है?

मुझे यह कई बार पूछा गया है कि आखिर एक ब्लॉग और वेबसाइट में क्या अंतर होता है ? मैंने देखा है यह प्रश्न पूछे जाने पर लोग तरह तरह के अंतर बताना शुरू कर देते हैं|

लेकिन सच ये है के ब्लॉग और वेबसाइट में केवल थोड़ा सा अंतर है । ब्लॉग, वेबसाइट का ही एक प्रकार होते हैं जिनमें नई जानकारी समय समय पर डाली जाती है | एक ब्लॉग को हमेशा नयी जानकारी से अपडेटेड रखना पड़ता है ।

उदाहरण के लिए आप किसी रेसिपी ब्लॉग को देख लें । कुछ ही अंतराल के बाद नई रेसिपी आपको दिखेगी । ऐसे ही आप किसी गैजेट या टेक ब्लॉग को देखें, नई-नई तकनीक और गैजेट कि जानकारी हमेशा ऐसे ब्लॉग पर आपको मिल जायेगी । जबकि अगर हम किसी स्टैटिक वेबसाइट कि बात करें तो उधर नई जानकारी बहुत ही काम बार डाली जाती है ।

ब्लॉगिंग क्या है

क्यूंकि अब हम जान चुके हैं के ब्लॉग क्या होता है, अब हम ब्लॉगिंग को और आसानी से समझ सकते हैं :

ब्लॉगिंग कई कौशलों का मेल है, जिनकी आवश्यकता किसी ब्लॉग को चलाने और नियंत्रित करने में होती है। इंटरनेट पर सामग्री को लिखना, पब्लिश करना, लिंक करना और सामग्री साझा करना ब्लॉगिंग के कुछ महत्वपूर्ण पहलु हैं

ब्लॉगिंग इतनी लोकप्रिय क्यों हो गयी है

दोस्तों हम सब कि यह फितरत है कि कुछ भी नया जानने के लिए हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं । हम जो भी जानना चाहते हैं हम गूगल, याहू, बिंग या किसी दूसरे सर्च इंजन पर लिखते हैं और सर्च रिजल्ट्स में उत्तर देख लेते हैं । ब्लॉगिंग करने वाले लोग, जिन्हे ब्लॉगर भी कहते हैं वो अपने ब्लॉग पर अक्सर किसी टॉपिक के बारे में बात करते हैं । जब भी कोई उस टॉपिक के विषय में कुछ खोजता है उन्हें सर्च रिजल्ट में उनके ब्लॉग का लिंक मिलता है और उसपर क्लिक करके वो जानकारी ले लेते हैं । इन्हीं कारणों से ब्लॉगिंग बहुत लोकप्रिय हो चुकी है ।

ब्लॉगिंग के लोकप्रिय होने का दूसरा कारण है अच्छी खासी कमाई ! अगर आपको नहीं पता तो बता दूँ के ब्लॉगर एड्स और दूसरे माध्यमों से अच्छा ख़ासा पैसा भी कमा लेते हैं । कुछ लोग केवल जानकारी दूसरों तक पहुँचाने के लिए यानी शौकिया तौर पे और कुछ पैसे कमाने के लिए ब्लॉगिंग कर रहे हैं जबकि बहुत से ब्लॉगर इन दोनों कारणों से ब्लॉगिंग से जुड़ रहे हैं|

ब्लॉगिंग से घर बैठे पैसे कैसे कमाएं?

आपके मन में अब ये प्रश्न अवश्य पैदा हो रहा होगा के ब्लॉगिंग से पैसा कैसे कमाया जाता है? आईये अब इसके बारे में जानते हैं :

दोस्तों, ब्लॉगिंग से आप गूगल एड्स, याहू एड्स या एफिलिएट प्रोग्राम के माध्यम से कमाई कर सकते हैं । जितने ज्यादा आपके ब्लॉग को पढ़ने वाले लोग होंगे उतनी ही ज्यादा आपकी कमाई भी हो सकती है।

किसी भी ब्लॉग पर एड्स लगाने से पहले उस ब्लॉग को एड के लिए अप्प्रूव कराना होता है । आज के समय में सबसे ज्यादा कामयाब है गूगल एडसेंस प्रोग्राम ! अगर आपका कोई ब्लॉग है तो गूगल एडसेंस में उसे अप्रूवल के लिए डाल दीजिये, अप्प्रूवल मिलते ही आप अपने ब्लॉग पर एड दिखा पाएंगे और हर एड पर क्लिक के आपको पैसे मिलेंगे । इस विषय पर मैं आपको विस्तार से किसी दूसरे लेख में अवश्य बताऊंगा |

आशा है इस लेख के माध्यम से ब्लॉगिंग कि परिभाषा कि विस्तृत जानकारी मिल गई होगी और साथ ही साथ ब्लॉगिंग से कमाई कैसे करें, इसका थोड़ा ओवरव्यू जरूर मिल गया होगा । आप अपने प्रश्न नीचे कमैंट्स सेक्शन में लिख सकते हैं जिनका जवाब आपको जल्द से जल्द दिया जाएगा |

सम्बंधित प्रश्न और उत्तर

ब्लॉगिंग क्या है?

ब्लॉगिंग कई कौशलों का मेल है, जिनकी आवश्यकता किसी ब्लॉग को चलाने और नियंत्रित करने में होती है। इंटरनेट पर सामग्री को लिखना, पब्लिश करना, लिंक करना और सामग्री साझा करना ब्लॉगिंग के कुछ महत्वपूर्ण पहलु हैं

ब्लॉगिंग के क्या लाभ हैं?

ब्लॉगिंग, ब्लॉग पढ़ने वाले और ब्लॉगर (ब्लॉग लिखने वाले) दोनों के लिए लाभकारी है । ब्लॉग के माध्यम से लोगों को मनचाही जानकारी मिल जाती है और ब्लॉगर पैसे कमा सकता है

क्या ब्लॉगिंग के माध्यम से कोई भी पैसे कमा सकता है?

जी हाँ ! अगर आप अपने ब्लॉग में अच्छी जानकारी दे रहे हैं और काफी लोग आपका ब्लॉग पढ़ रहे हैं तो आप अच्छी कमाई कर सकते हैं

Leave a Comment